ads

दो शुभ योग में होगा चैत्र नवरात्रि का आरंभ, मेष राशि में आएंगे सूर्य और चंद्र ग्रह

पूरे देश में कोरोना महामारी के साथ मां दुर्गा का आगमन होने जा रहा है। बीते साल भी मां दुर्गा का आगमन ऐसे वक्‍त में हुआ था जब पूरे देश के लोग इस महामारी से जूझ रहे थे, और बड़ी संख्या में लोग इससे प्रभावित हुए थे। इस बार भी चैत्र नवरात्रि के वक्‍त कोरोना का संकट एक बार फिर से गहरा गया है। इस बार सभी को माता रानी के आशीर्वाद की सख्त जरुरत है।

वहीं इस बार नवरात्रि का आरंभ दो विशेष शुभ योग के बीच होने जा रहा है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार इस बार अमृत सिद्धि और सर्वार्थ सिद्धि योग में चैत्र नवरात्रि का आरंभ हो रहा है। 13 अप्रैल चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि लग रही है। इसी दिन नवरात्र का घट स्थापना भी किया जाएगा। इस दिन चंद्रमा मेष राशि में रहेंगे और देर रात सूर्य भी मेष में आएंगे। ऐसे में यह भी अद्भुत संयोग है कि राशि चक्र की पहली राशि में चैत्र नवरात्र यानी संवत के पहले दिन ग्रहों के राजा और रानी स्थित होंगे।

नवरात्र का आरंभ अश्विनी नक्षत्र में होगा जिसके स्वामी ग्रह केतु और देवता अश्विनी कुमार है। जो आरोग्य के देवता माने जाते थे। ऐसे माना जा रहा है कि मां दुर्गा देश दुनिया में फैली कोरोना महामारी से राहत दिलाएंगी। इस बीच गुरु भी मकर राशि में कुंभ में आ चुके होंगे। गुरु का यह परिवर्तन भी कठिन समय से राहत दिलाएगा।

चैत्र नवरात्र तिथि समय 2021

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि आरंभ 12 अप्रैल 08 बजकर 1 मिनट

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि समाप्त 13 अप्रैल 10 बजकर 28 मिनट



Source दो शुभ योग में होगा चैत्र नवरात्रि का आरंभ, मेष राशि में आएंगे सूर्य और चंद्र ग्रह
https://ift.tt/3d1X8j3

Post a comment

0 Comments