ads

उज्बेकिस्तान चुनौती के लिए तैयार है भारतीय महिला फुटबॉल टीम : फुटबॉल कोच

नई दिल्ली। भारतीय महिला फुटबॉल टीम को उज्बेकिस्तान के खिलाफ और बेलारूस के खिलाफ दोस्ताना मुकाबले खेलना है। भारतीय महिला फुटबॉल टीम की कोच मयमॉल रॉकी का कहना है कि उज्बेकिस्तान जल्दी पहुंचने से टीम को ज्यादा फायदा मिलेगा। उज्बेकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से पहले रॉकी ने कहा कि वह शुक्रगुजार मानते है कि हम उज्बेकिस्तान जल्दी पहुंचकर ट्रेनिंग शुरू कर सके। मौसम की बात करे तो यहां कड़ाके की ठंड है। भारतीय महिला टीम ने पहले गोवा में ट्रेनिंग की। दोनों जगह का माहौल बिल्कुल अलग है। कोच का कहना है कि लड़कियों को इस माहौल में जल्द ढल गई है। सुबह और शाम दोनों टाइम प्रैक्टिस कर रहे है जिसका टीम को ज्यादा फायदा मिलेगा।

पूरी तरह तैयार है भारतीय महिला फुटबॉल टीम
इससे पहले भी भारतीय महिला फुटबॉल टीम ने 2019 में भी उज्बेकिस्तान का सामना किया था। भारतीय टीम के कोच का मानना है कि पहले और अब की टीम में खेल को लेकर काफी सुधार किया गया है। पहले के मुकाबले इस बार हालत भी बिल्कुल अलग है। रॉकी ने का कहना है कि उन्होंने इससे पहले भी उज्बेकिस्तान का सामना किया है। इस बार टीम में बदलाव किया गया है। दोनों टीमों के लिए यह यह मुकाबला आसान नहीं होगा। इस मैच के लिए भारतीय टीम पूरी तरह तैयार हैं। भारतीय महिला टीम को उज्बेकिस्तान के खिलाफ पांच अप्रैल और बेलारूस के खिलाफ आठ अप्रैल को दोस्ताना मुकाबले खेलने हैं।

यह भी पढ़ें : सचिन तेंदुलकर ने 15 साल की उम्र में बनाया था अपना पहला CV, जानिए सीवी की दिलचस्प बातें

एएफसी महिला एशिया कप 2022 की तैयारियों में मिलेगा फायदा
इन दोस्ताना मुकाबलों से भारतीय महिला फुटबॉल टीम को आगे काफी फायदा मिलेगा। इस बारे में बात करते हुए कोच ने कहा कि उज्बेकिस्तान और बेलारूस ऐसी बेहतरीन टीमों के खिलाफ खेलने से टीम को एएफसी महिला एशिया कप 2022 की तैयारियों को देखते हुए फायदा पहुंचेगा। उन्होंने आगे कहा कि अगर टीम ज्यादा से ज्यादा मुकाबले खेलेंगी तो टीम पहले से अधिक मजबूत और बेहतर होगी। इसलिए टीम के खिलाड़ियों को ज्यादा से ज्यादा मैच खेलते रहना चाहिए। इन मुकाबलों से मिले अनुभव की मदद आगे आने वाले टूनामेंट में मिलेगी।



Source उज्बेकिस्तान चुनौती के लिए तैयार है भारतीय महिला फुटबॉल टीम : फुटबॉल कोच
https://ift.tt/3umIcBH

Post a comment

0 Comments