ads

हिमाचल प्रदेश में अनूठी पहल, धौलाधार महोत्सव में वृक्षारोपण कर दिया अनोखा संदेश

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश में कला, साहित्य, खाद्य एवं साहसिक पर्यटन महोत्सव के साथ पर्यावरण संवर्धन हेतु जोरदार संदेश दिया गया। 20 और 21 तारीख को आयोजित धौलाधार महोत्सव में देश की नामचीन हस्तियों नें हिस्सा लिया। इसमें राष्ट्रीय,अंतरराष्ट्रीय लेखकों, चिंतकों और प्रकाशकों, संगीत और सिनेमा, मीडिया जगत से जुड़े लोगों के साथ-साथ पर्यावरण कर्मियों नें शिरकत किया और जीवन के विभिन्न आयामों पर गहन मंथन हुआ। इसमें सबसे अनोखी बात यह रही कि हरियाली क्रांति की टीम नें भी अपनी जोरदार उपस्थिति दर्ज कराई।

har.jpeg

पौधा वितरण के साथ किया वृक्षारोपण
20 मार्च को धौलाधार महोत्सव के शुरुआत के समय पीपल बाबा के नेतृत्व वाली त्रद्ब1द्ग द्वद्ग ह्लह्म्द्गद्गह्य ह्लह्म्ह्वह्यह्ल के प्रशिक्षित पर्यावरण कर्मियों ने धौलाधार महोत्सव में आये लोगों को किचन गार्डनिंग का पैकेट, कम्पोस्ट खाद व इंडोर प्लांटिंग से जुड़े पौधे और बड़े पौधे जूट के बैग में रखकर गिफ्ट दिया। साथ ही साथ हरियाली बढ़ाने से जुड़े इन समानों को कैसे उपयोग में लाया जाय, इसके बारे में बाकायदा जानकारी दी। उनका कहना था महिला व बुजुर्ग जो घरों से बाहर नहीं निकलते वें पेड़ न लगाने का बहाना बनाएं , इसकी बजाय अपने फ्लैट की बालकनी और छत पर भी छोटे पौधे उगाकर ऑक्सीजन बढ़ाने का उपाय कर सकते हैं। घर के अंदर भी डेकोरेशन बढ़ाने वाले पौधे लगाए जाने की भी पहल की जानी चाहिए। इससे भी घर की सुंदरता के साथ घर के अंदर ऑक्सीजन का प्रवाह सुनिश्चित किया जा सकता है।

विगत वर्षों में हुआ है काफी नुकसान
21 तारीख को अंतराष्ट्रीय वन्य दिवस के अवसर पर धौलाधार महोत्सव में उपस्थित हुए गणमान्यों नें पहाड़ पर ट्रैकिंग का लुत्फ़ उठाया और साथ ही साथ पौधारोपण का कार्य किया। क्षेत्रीय लोगों का कहना था कि धौलाधार के जंगलों में समय-समय पर आग लग जाने से भी विगत वर्षों में काफी नुकसान हुआ है। कुछ जंगल माफिया जंगल की जमीनों को अपनें नाम करानें के लिए पहले इनमें आग लगा देते हैं फिर जंगल समाप्त होनें पर जमीन अपने नाम करवाते हैं ऐसे गिरोह का पर्दाफास करके जंगलों को बचानें की दिशा में कार्य किये जानें की जरूरत है। पौधारोपण कार्यक्रम में देश की मीडिया और पी आर जगत की नामचीन हस्तियाँ भी हुईं शामिल, क्षेत्रीय लोगों नें ली देखभाल की जिम्मेदारी।

haryali.jpeg

क्या है हरियाली क्रांति अभियान
देश में पर्यावरण संवर्धन के लिए मशहूर पर्यावरणकर्मी पीपल बाबा के नेतृत्व में चलाई जा रही एक अनूठी मुहीम है। इस मुहीम के तहत इनकी संस्था गिव मी ट्रीज ट्रस्ट से जुड़े लोग हर के मौकों पर पौधा-वितरण का कार्य करते हैं। साथ ही लोगों से पर्यावरण संवर्धन अभियान से जुडनें की अपील करते हैं। ये लोगों से अपील करते हैं कि अपने जन्मदिवस या किसी भी शुभ दिवस को हरियाली दिवस के रूप में मनाएं और इस दिन पौधारोपण करके पर्यावरण सम्वर्धन में अपना योगदान दें और धरती को बचानें में अपना योगदान दें । इस अभियान का नारा "हर और हरियाली, हर घर खुशहाली" और लक्ष्य सम्पूर्ण हरियाली रखा गया है।



Source हिमाचल प्रदेश में अनूठी पहल, धौलाधार महोत्सव में वृक्षारोपण कर दिया अनोखा संदेश
https://ift.tt/397o0Md

Post a comment

0 Comments